जामिया मस्जिद में नमाज के बाद देश विरोधी नारे लगाने वाले 13 युवक गिरफ्तार, पुलिस ने जारी की तस्वीरें

राष्ट्रीय

श्रीनगर के पुराने शहर के नौहट्टा इलाके में स्थित ऐतिहासिक जामिया मस्जिद में शुक्रवार को रमजान के महीने की पहली जुमे की नमाज पढ़ी गई। इसमें काफी संख्या में बच्चे, बूढ़े, जवान और महिलाएं भी शामिल हुईं। वहीं, नमाज के बाद मस्जिद के मुख्य हॉल से देश विरोधी नारे गूंजे।

इसका वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है। इसमें लोग नारे लगाते दिखाई दे रहे हैं। पुलिस ने इस मामले में कार्रवाई करते हुए 13 लोगों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों की तस्वीर भी जारी की गई है।

चार मार्च 2022 को करीब 30 सप्ताह के बाद प्रशासन द्वारा लोगों को इस मस्जिद में सामूहिक जुमे की नमाज पढ़ने की अनुमति दी गई थी। जुमे की नमाज से पहले का उपदेश इमाम हाई सैयद अहमद नक्शबंदी द्वारा दिया गया था।

इसका कारण मीरवाइज उमर फारूक की नजरबंदी हैं। बता दें कि मीरवाइज 5 अगस्त 2019 को अनुच्छेद 370 के हटने के पहले से नजरबंद हैं। औकाफ के साथ-साथ लोगों की मांग है कि रमजान के इस पाक महीने में उन्हें रिहा किया जाए।