अपर्णा यादव के बीजेपी में जाने पर अखिलेश यादव का बयान कही ये बात

राष्ट्रीय

अपर्णा यादव के बीजेपी में जाने पर अखिलेश यादव का बयान आ गया है. उन्होंने कहा कि अपर्णा यादव को नेताजी (मुलायम सिंह यादव) ने काफी समझया था. लेकिन वह नहीं मानी. उन्होंने अपर्णा को बीजेपी में जाने की बधाई भी दी.

क्या अखिलेश विधानसभा चुनाव लड़ेंगे? इस सवाल पर वह बोले कि मैं आजमगढ़ की जनता से अनुमति से ही चुनाव लडूंगा. ऐसा इसलिए क्योंकि वहां के लोगों ने हमें जिताया था. बता दें कि अखिलेश आजमगढ़ से सांसद हैं. बुधवार को ही उनके विधानसभा चुनाव लड़ने की चर्चा सामने आई थी.

अखिलेश यादव ने यह वादा भी किया कि उनकी सरकार बनने पर समाजवादी पार्टी पेंशन योजना को फिर से शुरू किया जाएगा. इसमें जरूरतमंद महिला को सालाना 18 हजार रुपये दिए जाएंगे. पिछली सपा सरकार में 6 हजार रुपये दिए जाते थे. अखिलेश बोले कि सबसे ज्यादा अकाउंट (खाते) सपा ने खुलवाए थे, सबसे ज्यादा बैंक की ब्रांच और अकाउंट में सीधे पैसा जाने का काम भी सपा में हुआ था.

अपर्णा से जुड़े सवाल पर अखिलेश यादव ने कहा कि सबसे पहले मैं बधाई और शुभकामना दूंगा, सपा विचारधारा का विस्तार हो रहा है. मुझे उम्मीद है वहां भी हमारी विचारधारा होगी. नेता जी ने उन्हें बहुत कोशिश की समझाने की. अपर्णा क्या टिकट नहीं मिलने पर गईं? इसपर अखिलेश बोले टिकट अभी पूरे नही बांटे हैं, यह इंटरनल रिपोर्ट और जनता के मन पर निर्भर होता है कि किसे टिकट मिलेगा और किसे नहीं.

अखिलेश ने पत्रकारों के सवाल पर आगे कहा कि मैंने कहा था बीजेपी वालों को अब हम नहीं लेंगे. अगर हमारे उनके टच में हैं तो उनके भी हमारे टच में हैं. योगी सरकार पर हमला बोलते हुए अखिलेश ने कहा कि गाय मां भूखी है और जो उसे भूखा रखता है, उसे पाप पड़ता है.

अखिलेश यादव ने सपेरे समाज के लोगों का भी जिक्र किया. उन्होंने कहा कि भारत की पुरानी छवि भी सपेरों वाले देश की है. वह बोले कि अगर 2022 में सपा सरकार बनी तो आगरा एक्सप्रेसवे के पास Snake charmers village बनेगा.