बीरभूम हत्याकांड में गिरफ्तारी, मुंबई से 4 संदिग्धों को किया गिरफ्तार

राष्ट्रीय

नई दिल्ली: केंद्रीय जांच ब्यूरो ने बीरभूम हत्याकांड में पहली गिरफ्तारी की है. इस हत्याकांड में 21 मार्च को बोगटुई गांव में नौ लोगों को उनके घरों में जिंदा जला दिया गया था. एजेंसी ने गुरुवार को मुंबई से चार संदिग्धों को गिरफ्तार किया है. इस बात की जानकारी विभाग के एक अधिकारी ने दी है. इस मामले में यह एक बड़ी सफलता मानी जा रही है.

ठिकाने पर की धर-पकड़
CBI के अधिकारी ने बताया कि चारों आरोपी हत्याकांड के तुरंत बाद बोगटुई से महाराष्ट्र की राजधानी भाग गए थे और उन्हें गुरुवार की सुबह उनके ठिकाने से पकड़ लिया गया. वह बोले, ‘चार गिरफ्तार आरोपियों में से, दो व्यक्तियों – बप्पा और शब्बू शेख के रूप में पहचाने गए. हत्याओं के संबंध में दर्ज FIR में नामित किए गए थे. हम उन्हें मुंबई की एक अदालत के समक्ष पेश करेंगे और पश्चिम बंगाल में ट्रांजिट रिमांड के लिए याचिका दायर करेंगे.’

घरों में लगा दी थी आग
कलकत्ता उच्च न्यायालय ने उस हिंसा की CBI जांच का आदेश दिया था जिसमें बीरभूम के बोगटुई गांव में बदमाशों ने हमला किया था और घरों में आग लगा दी थी. इस घटना में TMC पंचायत अधिकारी भादु शेख की हत्या के बाद बच्चों सहित नौ लोगों की मौत हो गई थी.

पहले SIT ने की थी जांच
इससे पहले, पश्चिम बंगाल सरकार द्वारा गठित एक SIT मामले की जांच कर रही थी. हालांकि TMC पंचायत अधिकारी की हत्या की जांच जिला पुलिस कर रही है. अधिकारी के अनुसार, एक स्थानीय विवाद में शामिल होने के लिए सोना शेख पुलिस के लिए वॉन्टेड था, वह एक साल से अधिक समय से फरार था.