रायपुर में IAS कॉन्क्लेव में पहुंचे भूपेश बघेल, बोले-वाह क्या बात है !

क्षेत्रीय

राजधानी के नवा रायपुर के एक प्राइवेट रिसोर्ट में छत्तीसगढ़ के आईएएस अफसरों के कॉन्क्लेव का आयोजन किया जा रहा है। प्रदेशभर से भारतीय प्रशासनिक सेवा के अफ़सर इस कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे हैं। राज्य सरकार के अलग-अलग विभागों के प्रमुख जिम्मेदार अधिकारी इस कार्यक्रम का प्रमुख हिस्सा हैं। 3 दिन तक चलने वाले इस कॉन्क्लेव का 16 अप्रैल को समापन होगा। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इस समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि अफसरों को गांवों के विकास के लिए विशेष तौर पर ध्यान देना चाहिए।

राजधानी के नवा रायपुर के एक प्राइवेट रिसोर्ट में छत्तीसगढ़ के आईएएस अफसरों के कॉन्क्लेव का आयोजन किया जा रहा है। प्रदेशभर से भारतीय प्रशासनिक सेवा के अफ़सर इस कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे हैं। राज्य सरकार के अलग-अलग विभागों के प्रमुख जिम्मेदार अधिकारी इस कार्यक्रम का प्रमुख हिस्सा हैं। 3 दिन तक चलने वाले इस कॉन्क्लेव का 16 अप्रैल को समापन होगा। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इस समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि अफसरों को गांवों के विकास के लिए विशेष तौर पर ध्यान देना चाहिए।

कार्यक्रम में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जब पहुंचे तो छत्तीसगढ़ी बोली में जय जोहार के साथ सभी अफसरों ने उनका स्वागत किया। इसके बाद छत्तीसगढ़ी राज्य गीत अरपा पैरी के धार गाया गया। कार्यक्रम का संचालन छत्तीसगढ़ी में ही आईएएस अफसर रानू साहू ने किया। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल भी इस कार्यक्रम में सूट-बूट में नजर आए। आमतौर पर कुर्ते-पजामे में दिखने वाले मुख्यमंत्री भूपेश बघेल अफसरों के साथ अलग अंदाज में मुलाकात करते हुए नजर आए।