रोमानिया में रूसी दूतावास के गेट से कार की जोरदार टक्कर, भीषण आग लगने से ड्राइवर की मौत

अंतरराष्ट्रीय

रोमानिया की राजधानी बुखारेस्ट में रूसी दूतावास के गेट से बुधवार को एक कार टकरा गई, जिससे उसमें आग लग गई और चालक की मौत हो गई. पुलिस अधिकारियों ने यह जानकारी दी है. उन्होंने बताया कि कार सुबह छह बजे गेट से टकराई, लेकिन यह दूतावास परिसर के अंदर नहीं जा पाई. घटना से जुड़े एक वीडियो में कार से आग की लपटें निकलतीं और सुरक्षाबलों को क्षेत्र में भागते हुए देखा जा सकता है.

पुलिस ने बताया कि दमकल कर्मी तत्काल घटनास्थल पर पहुंचे और उन्होंने आग पर काबू पाया, लेकिन तक तब चालक की मौत हो चुकी थी. घटना के संबंध में कोई और जानकारी नहीं मिल सकी है. यहां रूसी दूतावास ने ‘एसोसिएटेड प्रेस’ से फोन पर कहा कि वह घटना के बारे में कोई और जानकारी अभी मुहैया नहीं करा सकता. गौरतलब है कि रोमानिया की सीमा यूक्रेन से लगती है और यूक्रेन पर रूस के आक्रमण के बाद से छह लाख से ज्यादा लोगों ने रोमानिया में शरण ले रखी है.

रोमानिया ने मंगलवार को रूस के दस राजनयिकों को निष्कासित कर दिया था. रोमानिया के विदेश मंत्रालय ने कहा कि दूतावास के दस कर्मचारी जिन्हें अवांछित घोषित किया गया है, उनकी गतिविधियां ‘राजनयिक संबंधों पर 1961 की विएना संधि के प्रावधानों का उल्लंघन’ करती हैं. बता दें रूस ने 24 फरवरी को यूक्रेन पर पहला हमला किया था. तभी से इन दोनों देशों के बीच भीषण युद्ध चल रहा है. तमाम शांति वार्ताओं के बाद भी युद्ध में कोई कमी नहीं आ रही.

यूक्रेन में खूब तबाही मचा रहा रूस
रूस ने यूक्रेन के अधिकतर शहरों को पूरी तरह तबाह कर दिया है. बीते कुछ दिनों से राजधावी कीव के पास का शहर बूचा दुनियाभर में चर्चा में बना हुआ है. यूक्रेन के अधिकारियों का आरोप है कि यहां रूसी सैनिकों ने अपने कब्जे के दौरान बड़े स्तर पर नरसंहार को अंजाम देते हुए 300 से अधिक लोगों की बेरहमी से हत्या कर दी है. रूसी सैनिकों के पीछे हटने के बाद जब यूक्रेन के सैनिक यहां आए तो उन्हें सड़क पर जगह-जगह लोगों के शव पड़े हुए दिखाई दिए. साथ ही कई जगह जल्दबाजी में खोदी गई कब्रों में भी खुले में शव पड़े हुए थे. कई शवों के हाथ-पैर रस्सियों से बंधे मिले. जिससे पता चलता है कि लोगों को मारने से पहले यातनाएं दी गई थीं.