‘राम नाम सुखदाई.. भजन करो भाई’ गाकर मुख्यमंत्री शिवराज ने ‘मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन यात्रा’ का किया शुभारंभ

राष्ट्रीय

भोपाल: कोरोना महामारी के 2 साल बाद भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने मध्य प्रदेश में मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन यात्रा का शुभारंभ किया. जिसके बाद भोपाल के रानी कमलापति स्टेशन से काशी विश्वनाथ के लिए स्पेशल ट्रेन रवाना की गई. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने खुद ट्रेन को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया. तीर्थ यात्रा में भोपाल समेत सागर, सीहोर, विदिशा, रायसेन, टीकमगढ़ और दमोह के करीब 900 यात्री शामिल है. गौरतलब है कि प्रदेश की पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री उषा ठाकुर भी यात्रियों के साथ जा रही है.

भजन गाकर सीएम ने तीर्थ दर्शन यात्रा का शुभारंभ किया
वहीं बता दें कि यात्रा रवाना होने से पहले मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने तीर्थ दर्शन योजना के तहत दर्शन करने जा रहे लोगों को संबोधित करते हुए सबसे पहले भजन गाया राम नाम सुखदाई.. भजन करो भाई ये जीवन दो दिन का… ये भजन गाकर मुख्यमंत्री ने तीर्थ दर्शन यात्रा का शुभारंभ किया. इस दौरान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि आप सब यात्रा के दौरान केवल परमात्मा का ध्यान करें. आपको अद्भुत आनंद की प्राप्ति होगी.प्रेम से दर्शन और यात्रा कीजिए और खूब आनंद से आइए और आने के बाद आपको कुछ काम समाज के लिए करने हैं.आप सभी तीर्थ यात्रा से वापसी के बाद अपने गांव, मोहल्ले में लोगों को पौधरोपण, स्वच्छता और नशा विरोध के लिए जागृत करें.

ट्रेन को रवाना करने के कार्यक्रम में कई मंत्री रहे मौजूद
मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि तीर्थ दर्शन यात्रा में भजन मंडली की व्यवस्था है.सुंदरकांड के पाठ आदि भी होते रहेंगे. आप सभी तीर्थयात्री जीवन की तमाम बातों को भूलकर आनंद. मंगल के साथ भगवान का भजन करते हुए तीर्थ यात्रा पर जाएं.वही मुख्यमंत्री ने कहा शरीर के सुख के साथ आत्मा का सुख भी चाहिये.तीर्थ दर्शन के पश्चात जो सुख मिलता है, वह जीवन को अद्भुत आनंद से भर देता है. हमारे यहां कहा भी जाता है कि जीवन का अंतिम लक्ष्य परमात्मा की प्राप्ति है.
ट्रेन को रवाना करने के कार्यक्रम में नगरीय प्रशासन मंत्री भूपेंद्र सिंह, पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री उषा ठाकुर और चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग और विधायक रामेश्वर शर्मा भी मौजूद रहे.