पन्ना में खाद्य वितरण के गबन के आठ आरोपित गिरफ्तार, 16 लाख 29 हजार रुपये बरामद

राष्ट्रीय

पन्ना जिले के खाद वितरण केंद्र गुनौर में शासकीय राशि में गबन करने वाले 8 आरोपितों को पुलिस ने गिरफ्तार कर उनके कब्जे से गमन की राशि से नकद16 लाख 29 हजार रुपये सहित 18 लाख29 हजार रुपये की कीमती सामग्री व नकदी जब्‍त की गई है। पुलिस अधीक्षक पन्ना धर्मराज मीणा ने मंगलवार को पुलिस कान्फ्रेंस रूम में आयोजित प्रेस वार्ता में जानकारी देते हुए बताया कि सोमवार 29 नवंबर 2021 को फरियादी इन्द्रपाल सिंह राजपूत जिला विपणन अधिकारी पन्ना द्वारा थाना गुनौर में रिपोर्ट की गई थी कि मप्र राज्य सहकारी विपणन संघ मर्यादित भण्डारण केन्द्र गुनौर के गोदाम प्रभारी रामकरण द्विवेदी द्वारा 26 नवंबर को फोन से सूचना दी गई कि खाद विक्रय की रकम गायब हो गई है। सूचना पर विपणन केन्द्र गुनौर पहुंचकर जांच करने पर खाद विक्रय की 23,64,487.50 रुपये की बड़ी राशि गायब है। उक्त आवेदन पत्र की जांच की गई तो पाया गया कि खाद वितरण केन्द्र प्रभारी द्वारा खाद विक्रय की राशि नियमानुसार बैंक में जमा न करते हुए वितरण केन्द्र के चौकीदार व अन्य कई लोगों के साथ मिलकर आपराधिक षड्यंत्र करते हुए खाद विक्रय की नकद राशि को गायब कर शासकीय राशि का गबन किया गया है। जिस शिकायत पर थाना गुनौर में अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

थाना प्रभारी गुनौर उप निरीक्षक एपी सिंह बघेल द्वारा उक्त घटना की जानकारी पुलिस अधीक्षक पन्ना को दी गई। पुलिस अधीक्षक पन्ना द्वारा घटना घटना को गंभीरता से लेते हुए तत्काल अनुविभागीय अधिकारी पुलिस गुनौर पीयूष मिश्रा के मार्गदर्शन व थाना प्रभारी गुनौर के नेतृत्व में पुलिस टीम गठित की गई। पुलिस अधीक्षक पन्ना द्वारा उक्त पुलिस टीम को तत्काल आरोपितों की गिरफ्तारी कर गबन हुए मशरूका को बरामद करने के निर्देश दिए गए साथ ही पुलिस टीम के साथ थाना प्रभारी देवेन्द्रनगर उप निरीक्षक अभिषेक पाण्डेय व पुलिस साइबर सेल टीम को सहायतार्थ लगाया गया। पुलिस टीम को पुलिस सायबर सेल पन्ना से मिली जानकारी व विश्वस्त सूत्रों से सूचना प्राप्त हुई कि वारदात को अंजाम देने वाले संदिग्ध व्यक्ति कस्बा गुनौर में एक स्थान पर बैठे हैं। सूचना के आधार पर तत्काल पुलिस टीम द्वारा मुखबिर के बताए स्थान पर पहुंचकर संदिग्ध व्यक्तियों को घेराबंदी कर पुलिस अभिरक्षा में लिया जाकर उनके नाम पता पूछे गए व घटना के बारे में पुलिस टीम द्वारा पूछताछ किए जाने पर सभी संदिग्ध व्यक्तियों द्वारा घटना को कारित करना स्वीकार किया गया। आरोपितों द्वारा गबन किया गया मशरूका अपने-अपने घरों में छिपाकर रखा होना बताया गया। जिसे पुलिस टीम द्वारा बरामद किया जाकर उक्त सभी आठ आरोपितों को गिरफ्तार किया गया। पुलिस टीम द्वारा शासकीय राशि का गबन कर खुर्द–बुर्द करने व आपराधिक षड्यंत्र करने के अपराध में आठ अभियुक्तों को गिरफ्तार किया जाकर उनके कब्जे से खाद विक्रय की शासकीय राशि सोलह लाख उन्‍तीस हजार रुपये नकद तथा घटना में प्रयुक्त दो मोटर साइकिल कीमती करीब 75,000 रुपये की जब्‍त की गई है। पुलिस टीम द्वारा उक्त आरोपितों से थाना गुनौर क्षेत्र की अन्य चोरियों के संबंध में पूछताछ की गई तो गिरफ्तार आठ आरोपितों में से सात आरोपितों द्वारा पूर्व में थाना गुनौर क्षेत्र के अंतर्गत हुई पांच चोरियों की वारदात को अंजाम देना स्वीकार किया गया। आरोपितों के बताए अनुसार पुलिस टीम द्वारा पूर्व में हुई पांचों चोरियों में चोरी गया मशरूका आरोपितों के कब्जे से बरामद किया जाकर आरोपितों को गिरफ्तार किया गया है।

आरोपितों में मकरण द्विवेदी 60 वर्ष निवासी ग्राम बसौरा थाना गुनौर, अश्वनी त्रिपाठी उम्र 42 वर्ष निवासी ग्राम चौकी थाना सलेहा, आरिफ उर्फ राजा 24 वर्ष निवासी देवेन्द्रनगर थाना देवेन्द्रनगर, कालीचरण विश्वकर्मा 21 वर्ष निवासी गुनौर, मद्धू उर्फ बलीराम रैकवार 21 वर्ष निवासी गुनौर, संजू रैकवार 19 वर्ष निवासी गुनौर, मोहम्मद फैज 20 वर्ष निवासी किसानटोला गुनौर, हीरालाल रैकवार 20 वर्ष निवासी गुनौर थाना गुनौर शामिल हैं।