रायपुर में शुरू हुआ फूड बैंक, पॉलिथिन लाइए और एक प्लेट गरमा-गर्म नाश्ता पाइए

क्षेत्रीय

छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में एक फूड बैंक शुरू हुआ है। यहां पर लोगों को गरमा गर्म नाश्ता मिलेगा। यहां एक स्कीम भी लागू की गई है, जिसे महापौर एजाज ढेबर ने लॉन्च किया। इसके तहत आप 1 किलो पॉलिथीन लेकर यहां आएंगे और गरमा गर्म नाश्ता मुफ्त में पाएंगे। महापौर एजाज ढेबर ने बताया कि शहर को प्लास्टिक फ्री करने के मकसद से इस अभियान की शुरुआत की जा रही है। यहां आए प्लास्टिक को उपयोग से हटा दिया जाएगा। इसे केंद्रीय गाइडलाइन के मुताबिक नष्ट किया जाएगा।

यह फूड बैंक रायपुर के शास्त्री बाजार में शुरू किया गया है। इसका संचालन शहर की महिला स्व सहायता समूह जानवी महिला समूह को सौंपा गया है। महिलाओं की टीम यहां पर लोगों के लिए नाश्ता तैयार करेगी और प्लास्टिक की पॉलीथिन लेकर आने वालों को यह नाश्ता मुफ्त में दिया जाएगा। एक तरह से ये प्लास्टिक जमा करने का अभियान है।

रायपुर के महापौर एजाज ढेबर और जोन कमिश्नर विनय मिश्रा ने बताया कि ऐसी व्यवस्था रायपुर शहर में पहली बार की जा रही है। यह न सिर्फ शहर को साफ रखने बल्कि पर्यावरण के संरक्षण के लिहाज से भी अनूठा प्रयोग है, जिसे लोगों का सपोर्ट मिलेगा।

नगर निगम रायपुर ने कारों में भी डस्टबिन अनिवार्य कर दिया है। महापौर एजाज ढेबर के निर्देश के बाद से गाड़ियों के सभी शो रूम नई कारों के साथ डस्टबिन दे रहे हैं। नगर निगम का निर्देश है कि कारों में डस्टबिन हमेशा हो और कचरा इसी में डाला जाए, बाद में कूड़ा किसी सही जगह पर फेंका जाए। रायपुर में डस्टबिन को लेकर इस तरह की अनिवार्यता पहली बार है। दरअसल स्वच्छता सर्वेक्षण 2022 में रायपुर को देश का सबसे साफ शहर बनाने की कवायद जारी है।

1 जुलाई से छत्तीसगढ़ में सिंगल यूज प्लास्टिक भी बैन कर दिया जाएगा। हाल ही में गोलबाजार में 7 दुकानों में छापा मारकर नगर निगम की टीम ने लगभग 200 किलोग्राम प्रतिबंधित पॉलीथिन जब्त किया था, कारोबारियों पर कुल 20 हजार रुपए का फाइन भी लगाया गया। सिंगल यूज प्लास्टिक की कैटेगरी में प्लास्टिक स्टिक वाले ईयरबड, गुब्बारे की स्टिक, प्लास्टिक झंडे, कैंडी स्टिक, थर्माकोल, प्लास्टिक कप, प्लेट, चम्मच, ग्लास वगैरह शामिल हैं। इसे लेकर भी दुकानों की जांच जारी है।