हॉस्पिटल कैंपस में 11 खोपड़ी और 54 हड्डियां मिलने से हड़कंप, अवैध गर्भपात का भी खुलासा

राष्ट्रीय

महाराष्ट्र में वर्धा जिले के आर्वी शहर से अवैध गर्भपात का सनसनीखेज खुलासा हुआ है. हॉस्पिटल के पिछले हिस्से से कल खोपड़ियों के 11 हिस्से और 54 हड्डियां बरामद की गई. मामले का खुलासा हॉस्पिटल में एक 13 वर्षीय लड़की के अवैध गर्भपात की जांच के बाद हुआ. आर्वी की 13 वर्षीय लड़की और 17 वर्षीय मित्र के बीच शारीरिक संबंध बन गया. शारीरिक संबंध बनने के बाद लड़की गर्भवती हो गई. 6 जनवरी को हॉस्पिटल में पांच महीने की गर्भवती लड़की का गर्भपात किया गया.

अस्पताल में अवैध गर्भपात का हुआ खुलासा

नियमों के अनुसार इसकी जानकारी पुलिस को नहीं दी गयी. 13 वर्षीय लड़की के अवैध गर्भपात की गुप्त जानकारी पर आर्वी पुलिस ने मामले की जांच शुरू की. 10 जनवरी को अवैध गर्भपात के सबूत मिलने का दावा किया गया. पुलिस ने डॉ और अस्पताल की एक महिला नर्स को गिरफ्तार कर लिया. दोनों से पूछताछ के बाद पुलिस को मामला काफी बड़ा होने का संकेत मिला. कल अस्पताल में जांच शुरू कर पुलिस ने 13 वर्षीय लड़की के अवैध गर्भपात से जुड़े सबूत की खोज शुरू की. अस्पताल के पिछले हिस्से में बायोगॅस प्लांट की खातिर गड्डा किया गया था. पुलिस को पुराने गड्ढे की खुदाई के दौरान मौके से 11 खोपड़ी और 54 हड्डियां मिली.

खोपड़ियों के 11 हिस्से और 54 हड्डियां जब्त

पुलिस ने जांच का दायरा बढ़ाते हुए जब्त की गयी खोपड़ियां और हड्डियों के साथ गड्ढे से निकला बायोमेडिकल सरकारी डॉक्टरों को सौंप दिया है. पुलिस ने इस मामले की जांच के लिए डीएसपी, पुलिस इन्स्पेक्टर, महिला पुलिस की समिति बनाई है. अब तक इस मामले से जुड़े चार आरोपियों को गिरफ्तार किया गया. गिरफ्तार आरोपियों में हॉस्पिटल की संचालिका, सहायक नर्स संगीता काले के साथ 13 वर्षीय लड़की से शारीरिक संबंध रख गर्भवती करने वाले 17 वर्षीय युवक के माता पिता शामिल हैं. वर्धा एसपी प्रशांत होलकर ने बताया कि गोबर गैस प्लांट के गड्ढे से कल पुलिस ने खोपड़ियों के 11 हिस्से और 54 हड्डियां बरामद की है. हॉस्पिटल में 13 वर्षीय लड़की के अवैध गर्भपात मामले की जांच से खुलासा हुआ है.