गोलमाल’ की एक्ट्रेस मंजू सिंह का निधन, लंबे वक्त से थीं बीमार

मनोरंजन

टेलीविजन की दिग्गज अभिनेत्री मंजू सिंह का बीमारी के बाद निधन हो गया है. ये जानकारी उनके परिवार ने शनिवार को दी. परिवार ने कहा कि गुरुवार को मुंबई में उनका निधन हो गया. बताया जा रहा है कि 72 साल की उम्र में हार्ट अटैक के कारण उन्होंने आखिरी सांस ली.

परिवार का बयान
परिवार ने मीडिया को बताया, “हम गंभीर दुख के साथ आपको सूचित कर रहे हैं कि मंजू सिंह का निधन हो गया है. उन्होंने एक सुंदर और प्रेरक जीवन जिया. उनके ‘मंजू दीदी’ से ‘मंजू नानी’ तक के सफर के लिए याद किया जाएगा.”

‘शो थीम’ से शुरू किया था करियर
जानकारी के मुताबिक, सिंह ने 1980 के दशक के शुरूआती दिनों में छोटे पर्दे पर पहला प्रायोजित कार्यक्रम ‘शो थीम’ के साथ शुरूआत की. गौरतलब है कि मंजू सिंह को खासतौर पर ऋषिकेश मुखर्जी की 1979 में रिलीज हुई फिल्म ‘गोलमाल’ के लिए जाना जाता था. उन्होंने इस फिल्म में रत्ना नाम की लड़की का किरदार निभाया था. इसके अलावा वह टीवी इंडस्ट्री का भी जाना माना नाम थीं.

कई टीवी शोज को किया प्रोड्यूस
इसके बाद में उन्होंने रंगीन प्रसारण के प्रारंभिक युग में दूरदर्शन के लिए धारावाहिकों, बच्चों के शो, आध्यात्मिक से सक्रियता और अन्य सार्थक विषयों से लेकर कई यादगार टेलीविजन कार्यक्रमों को प्रोड्यूस किया.

बच्चों के शोज से लेकर हिंदी फिल्में
उनमें से कुछ में ‘एक कहानी’, ‘स्वराज’, ‘अधिकार’ शामिल थे और बच्चों के शो ‘खेल खिलाड़ी’ की एंकरिंग की, जो उस समय सबसे लंबे समय तक चलने वाले शो में से एक था. सिंह ने कुछ हिंदी फिल्मों में भी काम किया.

अहम मुद्दों पर की थी मंजू सिंह ने चर्चा
मंजू ने अपने शोज में ज्यादातर राष्ट्रीय, सांस्कृतिक और सामाजिक मुद्दों को उठाया था. उन्होंने 1983 में ‘शो टाइम’ से निर्माता के तौर अपने करियर की शुरुआत की थी. इसमें कई क्षेत्रिय भाषाओं की साहित्यिक लघु कथाओं पर चर्चा की जाती थी. इसके अलावा उन्होंने अपनी डॉक्यूमेंट्री-ड्रामा सीरीज ‘अधिकार’ में महिलाओं के कानूनी अधिकारों को दुनिया के सामने रखा था.