रोज अप-डाउन करने वाले यात्रियों के लिए खुशखबरी ! रेलवे ने शुरू की एमएसटी की सुविधा

क्षेत्रीय

रायपुर : छत्तीसगढ़ में हर दिन अप-डाउन करने वाले हजारों रेल यात्रियों के लिए अ’छी खबर आई है। क्योंकि रेलवे प्रशासन ने पिछले 22 महीने से लगी एमएसटी पर रोक हटाते हुए 23 जनवरी से बहाल करने का आदेश जारी किया है। जारी आदेश के अनुसार एमएसटी धारक यात्री एक्सप्रेस, मेल या सुपरफास्ट ट्रेनों के जनरल कोच में सफर नहीं कर सकेंगे। यदि पकड़े जाएंगे तो जुर्माना भरना होगा। एमएसटी की सुविधा सिर्फ लोकल स्पेशल ट्रेनों के लिए है।

रायपुर समेत आसपास के शहरों दुर्ग, भिलाई, तिल्दा, भाटापारा, बिलासपुर से हर दिन हजारों लोग अप-डाउन करते रहे हैं। परंतु कोरोनाकाल के शुरुआती 23 मार्च 2020 को पहला लॉकडाउन देश में लगने के साथ ही जहां ट्रेनों के पहिए कई महीनों तक थम गए थे। वहीं तब से मासिक सीजन टिकट (एमएसटी) के सफर पर रोक लगा दी गई थी। जिसे अब जाकर बहाल किया गया है। इस संबंध में उप मुख्य कमर्शियल मैनेजर बिलासपुर जोन मसूद आलम अंजारी ने शुक्रवार को जारी आदेश में रायपुर, नागपुर और बिलासपुर तीनों रेल मंडलों के कमर्शियल अधिकारियों को पत्र भेजकर एमएसटी सेवा 23 जनवरी से लोकल स्पेशल ट्रेनों के लिए बहाल करने कहा है।

मेल-एक्सप्रेस में रहेगा प्रतिबंधित

रेल अफसरों के अनुसार एमएसटी की सुविधा केवल लोकल स्पेशल ट्रेनों के लिए है। मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों के जनरल कोच में रिजर्वेशन कराकर ही यात्री सफर कर सकते हैं। इन ट्रेनों में अभी जनरल टिकट से सफर में रेलवे बोर्ड की रोक लगी हुई है। इसलिए एमएसटीधारकों के लिए भी प्रतिबंधित है। यदि इन ट्रेनों में एमएसटी वाले यात्री पकड़े जाएंगे तो दोगुना पेनाल्टी उनसे वसूली जाएगी।