मधुमक्खियों के हमले से दादी व पोते की मौत

क्षेत्रीय

छत्तीसगढ़ के महासमुंद जिले में मधुमक्खियों के हमले से 2 लोगों की मौत हो गई। महिला व उसका नाती जंगल में महुआ बीनने गए थे, तभी मधुमक्खियों ने हमला कर दिया। मधुमक्खियों के डंक से 5 साल के बालक की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं अस्पताल पहुंचने के बाद भी महिला को नहीं बचाया जा सका। घटना पिथौरा थाना क्षेत्र की है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

मिली जानकारी के मुताबिक पिथौरा थाना क्षेत्र के ग्राम गिरना से लगे जंगल में जहुरमति महुआ बीनने गया था। उसके साथ 5 साल का बालक साहिल भी था। महुआ बीनने के दौरान एक बाज ने मधुमक्खी के छत्ते पर चोंच मार दी। इसे बाद महुआ इकट्ठा कर रहे लोगों पर मधुमक्खियों ने हमला कर दिया। कुछ लोगों ने भागकर अपनी जान बचाई। मधुमक्खियों के हमले से 5 वर्षीय बालक की मौके पर मौत हो गई। वहीं वृद्ध महिला को गंभीर हालत में पिथौरा अस्पताल लाया गया, जहां उपचार शुरू होने से पहले महिला ने दम तोड़ दिया।

शरीर पर थे मधुमक्खियों के डंक
एएसआई सिकंदर भोई ने बताया कि सूचना पर पुलिस भी अस्पताल पहुंची। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराकर परिजनों को सौंप दिया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। ब्लॉक मेडिकल ऑफिसर तारा अग्रवाल ने बताया कि मधुमक्खियों के हमले से साहिल और जहुरमति की मौत हुई है। मृतकों के पूरे शरीर में मधुमक्खियों के डंक थे। हमले से मासूम की मौत घटनास्थल पर हुई थी, जबकि वृद्ध महिला की मौत अस्पताल में लाने के 15 मिनट बाद हुई है।