‘ताबादला चाहिए तो बीवी को मेरे पास भेजो’ जेई की प्रताड़ना से तंग आकर दे दी जान

राष्ट्रीय

उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी जिले में एक लाइनमैन ने जेई की प्रताड़ना से तंग आकर जान दे दी. मरने से पहले लाइनमैन ने अपने बयान में कहा कि बिजली विभाग में तैनात जाएगी नागेंद्र कुमार उसका तबादला कराने के बदले उसकी बीवी को अपने पास भेजने की बात करते थे, जिससे आहत होकर उसने खुद पर पेट्रोल डालकर आग लगा ली है.

दरअसल, पलिया थाना क्षेत्र एक कस्बे में बने बिजली उप केंद्र में रहने वाले लाइनमैन गोकुल प्रसाद ने जेई नागेंद्र कुमार की प्रताड़ना से परेशान होकर खुद पर पेट्रोल डालकर आग लगा ली. बिजली विभाग के अधिकारियों द्वारा पिछले 3 साल में कई बार तबादला इधर-उधर किए जाने से परेशान होकर लाइनमैन गोकुल प्रसाद ने पलिया विद्युत उपकेंद्र कार्यालय के बाहर खुद पर पेट्रोल डालकर आग लगा ली.

इस दौरान मौके पर मौजूद लोगों ने तो गोकुल प्रसाद को नहीं बचाया लेकिन बाद में घटना की जानकारी मिलने के बाद पहुंचे परिवारी जन आग में झुलसे गोकुल प्रसाद को इलाज के लिए जिला अस्पताल लेकर आएं. यहां से रेफर हो जाने के बाद लखनऊ ले गए, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई.

मृतक लाइनमैन गोकुल प्रसाद ने मरने से पहले अपने दिए बयान में कहा कि बिजली विभाग में तैनात जाएगी नागेंद्र कुमार उसका तबादला कराने के बदले उसकी बीवी को अपने पास भेजने की बात करते थे, जिससे आहत होकर उसने खुद पर पेट्रोल डालकर आग लगा ली है.

मृतक लाइनमैन गोकुल प्रसाद की पत्नी राजकुमारी ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि पिछले 3 साल से उसके पति का ट्रांसफर विभाग के लोग कहीं महंगापुर कर देते थे, कहीं अलीगंज कर देते थे तो कभी गोला कर देते थे और जब हमारे पति ने उनसे अपना ट्रांसफर पलिया कराने की बात कही तो बिजली विभाग में तैनात जेई नागेंद्र कुमार कहते थे कि पहले अपनी बीवी को लाकर हमारे पास सुलाओ तब हम ट्रांसफर करेंगे.

मामले की गंभीरता को देखते हुए लखीमपुर खीरी जिले के डीएम महेंद्र बहादुर सिंह ने बिजली विभाग में तैनात जेई नागेंद्र कुमार को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया है और तहरीर मिलने की बात कही है. मृतक लाइनमैन गोकुल प्रसाद के परिवार वालों ने देर रात जेई और अन्य कर्मचारियों के खिलाफ लिखित में एक शिकायत पुलिस को दे दी है.