लगा दी है आवाज कम करने वाली मशीन, अजान मामले में बोले जामा मस्जिद के ईमाम

राष्ट्रीय

कर्नाटक में लाउडस्पीकर पर अजान को लेकर जारी बहस के बीच बेंगलुरु जामा मस्जिद के चीफ इमाम मोहम्मद इमरान राशदी ने कहा है कि आवाज को कंट्रोल करने के लिए डिवाइस का इंतजाम किया गया है। उन्होंने कहा है कि जितनी आवाज की इजाजत है उस स्तर क मेनटेन करने के लिए व्यवस्था की गई है और कोर्ट के आदेश का पालन किया जाएगा।

राशदी ने कहा, हमने ऐसी डिवाइस का इंतजाम किया है जो कि आवाज को कम कर देगी और इससे किसी को दिक्कत नहीं होगी। हम सुप्रीम कोर्ट के सभी आदेशों का पालन करेंगे। इसी तरह मंदिरों को भी नियमों का पालन करना चाहिए।

सीनियर मौलाना ने यह टिप्पणी कर्नाटक के मुख्यमंत्री बासवराज बोम्मई के बयान के बाद की है। बोम्मई ने कहा था कि इस मामले में कोई बातचीत की जरूरत नहीं है। अगर किसी धार्मिक स्थल पर बिना इजाजत लाउडस्पीकर लगाया जाता है और हाई कोर्ट के आदेश का पालन नहीं होता है तोसख्त कार्रवाई की जाएगी।

कर्नाटक के मंत्री केएस ईश्वरप्पा ने कहा था कि राज्य में इस समस्या का हल निकालना जरूरी है। बता दें कि यह मामला महाराष्ट्र से शुरू हुआ था। एमएनएस चीफ राज ठाकरे ने वॉर्निंग दी थी कि अगर मस्जिद पर तेज आवाज में अजान दी जाएगी और लाउडस्पीकर लगाए जाएंगे तो उसके सामने हनुमान चालीसा बजा दिया जाएगा।