कालीचरण महाराज की बढ़ी मुश्किलें, पुणे के बाद वर्धा पुलिस ने किया अरेस्ट

राष्ट्रीय

वर्धा: महात्मा गांधी के खिलाफ कथित अपमानजनक बयान देने के लेकर यहां दर्ज एक मामले के सिलसिले में वर्धा पुलिस ने बुधवार को कालीचरण महाराज को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस के उप-संभागीय अधिकारी पीयूषजगताप ने बताया कि कालीचरण को छत्तीसगढ़ के रायपुर से सुबह करीब 5 बजे यहां लाया गया। इसी तरह के एक मामले में उसे रायपुर की जेल में रखा गया था। कालीचरण महाराज को वर्धा के स्थानीय मजिस्ट्रेट की अदालत में पेश किया गया जिन्होंने उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया।

वर्धा शहर थाने में 29 दिसंबर, 2021 को मामला दर्ज किया गया था। इससे पहले कालीचरण महाराज को रायपुर पुलिस ने पिछले साल 26 दिसंबर को वहां एक समारोह में महात्मा गांधी के बारे में कथित रूप से अपमानजनक टिप्पणी करने के मामले में गिरफ्तार किया था। महाराष्ट्र में अकोला पुलिस ने भी उसके खिलाफ ऐसा ही मामला दर्ज किया है। पुणे पुलिस ने 19 दिसंबर, 2021 को वहां आयोजित ‘शिव प्रताप दिन’ के दौरान कथित भड़काऊ भाषण देने के मामले में पिछले सप्ताह कालीचरण महाराज को गिरफ्तार किया था।

छत्रपति शिवाजी महाराज द्वारा 1659 में अफजल खान को मार गिराने की स्मृति में यह कार्यक्रम मनाया गया। पुणे की एक अदालत ने शुक्रवार को कालीचरण महाराज को जमानत दे दी थी जिसके बाद उसे रायपुर जेल भेजा गया। वर्धा पुलिस ने एक पेशी वारंट जमा करके बुधवार को रायपुर से उसे गिरफ्तार किया।