Milk Price Hike: आम आदमी काे महंगाई का एक और झटका, यहाँ डेयरी संचालकों ने 5 रुपये बढ़ाया दूध का दाम

व्यापार

महंगाई की मार आम आदमी पर चारों ओर से पड़ रही है। पेट्रोल व डीजल की कीमत हर रोज बढ़ रही है। टोल टैक्स में भी बढ़ोतरी हो गई है। अब लुधियाना में डेयरी संचालकों ने भी दूध के दाम में एक साथ पांच रुपये की बढ़ोतरी कर दी है। अब लुधियाना में डेयरियों से 60 की जगह 65 रुपये में लीटर में दूध मिलेगा। डेयरी संचालकों ने ऐलान किया है कि नए दाम शुक्रवार से लागू हो गए हैं।

हरा चारा और तूड़ी भी महंगी

डेयरी संचालकों का कहना है कि दूध के दाम में बढ़ोतरी करने की मुख्य वजह पेट्रोल व डीजल के दामों में बढ़ोतरी के साथ हरा चारा और तूड़ी भी महंगी हो गई है। जानवरों की खुराक भी दोगुना तक महंगी हो गई है। हैबोवाल डायरी एसोसिएशन और ताजपुर रोड डेयरी एसोसिएशन इस मसले पर तीन दिन से बैठकें कर माथापच्ची कर रही थीं। सर्वसम्मति से एसोसिएशनों ने फैसला लेकर बढ़े दाम पहली अप्रैल से लागू कर दिए हैं। गौरतलब है कि पिछले महीने ही वेरका और अमूल ने भी दूध के दाम में बढ़ोतरी की थी। हाल में वेरका ने दूध उत्पादकों से खरीदे जाने वाले दूध की फैट के रेट में भी इजाफा किया है।

दाम में बढ़ोतरी का फैसला सर्वसम्मति से लिया

ताजपुर डेयरी एसोसिएशन के प्रधान दविंदर सिंह ओबराय का कहना है कि दाम में बढ़ोतरी का फैसला सर्वसम्मति से लिया गया है। दूध उत्पादकों को महंगाई के कारण परेशानी का सामना करना पड़ रहा था। हरा चारा 90 से 100 रुपये प्रति क्विंटल होता था जो अब 180 से 200 रुपये प्रति क्विंटल मिल रहा है। तूड़ी की कीमत 400 रुपये प्रति क्विंटल तक पहुंच गई है। हर साल मजदूरों की मजदूरी बढ़ रही है। अब कम दाम में दूध बेचना मुश्किल है। 65 रुपये प्रति लीटर दूध बेचने पर भी केवल उनका खर्च निकल पाएगा। हैबोवाल डेयरी एसोसिएशन के प्रधान परमजीत सिंह का कहना है कि दूध के दाम बढ़ाने के अलावा उनके पास कोई रास्ता नहीं था।