देश छोड़कर भाग रहा PM का परिवार, पूरी कैबिनेट ने दिया इस्तीफा

अंतरराष्ट्रीय

श्रीलंका में राजनीतिक और आर्थिक हालात नहीं सुधर पा रहे हैं. इस देश में न खाने को अनाज मिल रहा है और न ही पेट्रोल पंप पर ईंधन मिल पा रहा है. प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे के पूरे मंत्रिमंडल ने इस्तीफा सौंप दिया है और वहां सरकार में नए चेहरों को लाने की कोशिश की जा रही है. इस बीच एक अहम घटनाक्रम में पीएम महिंदा राजपक्षे के परिवार के कई सदस्यों ने देश छोड़ दिया है.

श्रीलंका के प्रमुख अखबार डेली मिरर की एक रिपोर्ट के अनुसार महिंदा राजपक्षे सरकार में मंत्री रहे उनके बेटे नमल राजपक्षे की पत्नी लमिनी राजपक्षे श्रीलंका छोड़ दिया है. इसके साथ ही पीएम महिंदा राजपक्षे के समधी यानी के लमिनी राजपक्षे भी श्रीलंका छोड़कर दूसरे देश चले गए हैं. ये लोग किस देश में गए हैं अभी इसकी जानकारी नहीं है, लेकिन सरकार के खिलाफ बढ़ते विरोध प्रदर्शनों और लोगों के गुस्से के बीच ये सभी देश छोड़कर चले गए हैं.

सूत्रों ने कहा है कि प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे के परिवार के कुल 9 लोगों ने देश छोड़ दिया है और अज्ञात स्थान पर चले गए हैं. सूत्रों के अनुसार ये सभी सदस्य 3 अप्रैल की सुबह देश से बाहर निकले हैं.

अभी ये स्पष्ट नहीं है कि प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे की अन्य दो बहुएं भी देश छोड़कर चली गई हैं या नहीं? बता दें कि श्रीलंका में कई दिनों से ये अफवाहें चल रही हैं कि प्रधानमंत्री के परिवार से जुड़े लोग श्रीलंका छोड़कर बाहर जा सकते हैं.

खास बात यह है कि नमल राजपक्षे श्रीलंका के प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे के बेटे हैं. कुछ देर पहले तक नमल श्रीलंका के युवा और खेल मंत्री थे. लेकिन अब श्रीलंका की पूरी कैबिनेट ने इस्तीफा दे दिया है. यहां ये बताना जरूरी है कि नमल राजपक्षे ने श्रीलंका में सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म को बंद करने के सरकार के फैसले की आलोचना की थी. उन्होंने रविवार को संवाददाताओं से कहा कि सोशल मीडिया पर बैन बेकार है क्योंकि कई लोग वीपीएन का इस्तेमाल सोशल मीडिया साइटों तक पहुंचने के लिए कर रहे हैं. इसके अलावा श्रीलंका के इस कदम की अन्य देशों में भी आलोचना हुई. इसके बाद सरकार ने रविवार दोपहर तक सोशल मीडिया पर से प्रतिबंध हटा लिया.

बता दें कि श्रीलंका कर्ज, महंगाई से परेशान है. श्रीलंका विदेशी मुद्रा के अभाव में विदेशों से पेट्रोलियम समेत, जरूरी खाद्य पदार्थों का आयात नहीं कर पा रहा है. श्रीलंका की सरकार ने हालात से निपटने के लिए कई शहरों में कर्फ्यू लगा रखा है.