पीएम मोदी के बधाई संदेश का शहबाज शरीफ ने दिया जवाब, जम्मू-कश्मीर का उठाया मुद्दा

राष्ट्रीय

नई दिल्ली: पाकिस्तान के नवनियुक्त प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने मंगलवार को अपने भारतीय समकक्ष नरेंद्र मोदी को उन्हें बधाई देने के लिये धन्यवाद दिया. साथ ही उन्होंने कहा कि उनका देश भारत के साथ शांतिपूर्ण और सहयोगात्मक संबंध चाहता है. शहबाज शरीफ ने हालांकि इस बात पर जोर दिया कि जम्मू-कश्मीर सहित लंबित विवादों का शांतिपूर्ण समाधान बहुत जरूरी है.

पीएम मोदी का जताया आभार
पीएम मोदी के बधाई संदेश का जवाब देते हुए शरीफ ने ट्वीट किया, ‘पाकिस्तान भारत के साथ शांतिपूर्ण और सहयोगात्मक संबंध चाहता है. जम्मू-कश्मीर सहित लंबित विवादों का शांतिपूर्ण समाधान बेहद जरूरी है. आतंकवाद से लड़ने में पाकिस्तान का बलिदान सबको पता है. आइए शांति सुनिश्चित करें और अपने लोगों के सामाजिक-आर्थिक विकास पर ध्यान दें.’

प्रधानमंत्री मोदी ने सोमवार को 70 वर्षीय शहबाज शरीफ को पाकिस्तान का प्रधानमंत्री चुने जाने पर बधाई दी और कहा कि भारत क्षेत्र में शांति एवं स्थिरता चाहता है जो आतंकवाद से मुक्त हो जिससे हम अपनी विकास चुनौतियों पर ध्यान केंद्रित कर सकें और अपने लोगों की भलाई और समृद्धि सुनिश्चित कर सकें.’

शहबाज ने उठाया कश्मीर का मुद्दा
शहबाज शरीफ ने सोमवार को अपने पहले ही संबोधन में कश्मीर से अनुच्छेद 370 को खत्म करने का मुद्दा उठाते हुए आरोप लगाया कि घाटी में लोगों का खून बह रहा है और पाकिस्तान उन्हें कूटनीतिक और नैतिक समर्थन देने के साथ-साथ हर अंतरराष्ट्रीय मंच पर यह मुद्दा उठाता रहेगा.

इमरान खान की जगह लेने वाले शहबाज शरीफ ने कहा कि वह भारत के साथ अच्छे रिश्ते चाहते हैं, लेकिन कश्मीर मुद्दे के समाधान के बिना इसे हासिल नहीं किया जा सकता है. शरीफ तीन बार पाकिस्तान के प्रधानमंत्री रह चुके नवाज शरीफ के छोटे भाई हैं. शहबाज शरीफ ने सोमवार को पाकिस्तान के 23वें प्रधानमंत्री के तौर पर शपथ ली है.