कोंडागांव में स्कूल का अस्तित्व बचाने साइकिल से रायपुर के लिए निकले छात्र, राज्यपाल से करेंगे मुलाकात

क्षेत्रीय

कोंडागांव जिले के 12 छात्र अपनी मांगों को लेकर साइकिल से राजधानी रायपुर निकले हैं. सभी छात्रों का रायपुर में राज्यपाल अनुसूइया उइके से मुलाकात करने का इरादा है. छात्रों की शिकायत है कि वर्षों पुराने हिंदी मीडियम स्कूल को स्वामी आत्मानंद इंग्लिश मीडियम कर दिया गया है और एक ही भवन में 2 शिफ्ट संचालित हो रहा है. इसलिए छात्रों की परेशानी बढ़ गई है और पढ़ाई प्रभावित हो रही है. राजधानी रायपुर में राज्यपाल को समस्या से अवगत कराएंगे.

दरअसल, रायपुर के लिए निकले सभी छात्र शासकीय बालक हायर सेकंडरी स्कूल केशकाल की कक्षा 12वीं में पढ़ाई करते हैं. छात्रों का कहना है कि साल 1962 से स्कूल संचालित है, लेकिन उसे हाल ही में स्वामी आत्मानंद इंग्लिश मीडियम कर अस्तित्व को ही खत्म कर दिया गया है. स्कूली बच्चों का कहना है कि जानकारी मिल रही है कि भविष्य में हिंदी मीडियम स्कूल बंद हो सकता है. छात्रों ने बताया कि विरोध इंग्लिश मीडियम स्कूल होने का नहीं है बल्कि अलग से संचालित करने की मांग है ताकि भविष्य खराब न हो.

स्कूली छात्र केशकाल से साइकिल पर राजधानी रायपुर के लिए भारत माता की जय-जयकार करते हुए निकल. साइकिल यात्रा के कांकेर पहुंचने पर पुलिस और स्थानीय प्रशासन ने रोक लिया. छात्रों को आगे जाने से मना कर दिया. मामले की जानकारी मिलने पर ABVP और BJP के कार्यकर्ता भी मौके पर पहुंच गए. कार्यकर्ताओं की पुलिस से काफी देर बहस हुई. बहस के बाद सभी स्कूली छात्रों को रायपुर जाने दिया गया.