छात्रा से करता था अश्लील बातें, पास कराने के लिए मांगे पैसे; प्रिंसिपल सस्पेंड

क्षेत्रीय

छत्तीसगढ़ के सूरजपुर जिले के चंद्रमेढ़ा स्कूल की छात्रा से अश्लील बातचीत करने व परीक्षा में पास कराने के नाम पर पैसे की मांग करने वाले प्राचार्य को संभाग आयुक्त जीआर चुरेन्द्र के द्वारा निलंबित कर दिया गया है। सूरजपुर जिले के शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय चंद्रमेढ़ा के प्राचार्य अरुण पांडेय के विरुद्ध चौकी चेन्द्रा में एफआईआर दर्ज की गई है।

जानकारी के मुताबिक, प्राचार्य पांडेय के द्वारा कक्षा 12वीं की आदिवासी छात्रा को परीक्षा में बैठने की अनुमति दिलाने और परीक्षा में पास कराने के नाम पर पैसे की मांग की गई थी। इसके साथ ही छात्रा से अश्लील बातचीत करते हुए परीक्षा में पास कराने का प्रलोभन दिया गया गया। प्राचार्य की बदनीयत को जानकर छात्रा ने परीक्षा भी छोड़ दी थी। कमिश्नर ने प्राचार्य अरुण पांडेय के उक्त कृत्य को छत्तीसगढ़ सिविल सेवा नियम 1965 के नियम 3 के विपरीत मानते हुए तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। निलंबन अवधि में पाण्डेय का मुख्यालय जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय कोरिया नियत किया गया है। निलंबन अवधि के दौरान नियमानुसार उन्हें जीवन निर्वाह भत्ता की पात्रता होगी।

यह था मामला
शासकीय हायर सेकेंडरी स्कूल चंद्रमेढ़ा में बारहवीं कक्षा में पढ़ने वाली एक छात्रा को प्रभारी प्राचार्य अरुण पांडे द्वारा बोर्ड की परीक्षा में पास कराने के नाम पर शारीरिक संबंध बनाने का ऑफर दिया गया था। इससे छात्रा मानसिक रूप से प्रताड़ित होकर परीक्षा ही नहीं देना उचित समझा। जब छात्रा के परिजनों ने परीक्षा नहीं देने का कारण पूछा तो उसने मामले की जानकारी दी। परिजनों ने पीड़िता के साथ 17 मार्च को चेंद्रा पुलिस चौकी पहुंच रिपोर्ट दर्ज कराई। पुलिस ने मामले में धारा 354(क)(1)(ii)-IPC, 509 के तहत अपराध दर्ज किया है।

फरार है आरोपी प्राचार्य
मामले में एफआईआर दर्ज होने के बाद चंद्रमेढ़ा स्कूल का प्रभारी प्रचार अरुण पांडे फरार हो गया है। पुलिस द्वारा उसे गिरफ्तार करने की कोशिश की गई लेकिन अब तक वह पुलिस के हाथ नहीं लग सका है।