यूपी में कांग्रेस का CM उम्मीदवार कौन, प्रियंका गांधी बोलीं- मेरे सिवा कोई और चेहरा दिखता है क्या? विडियो

राष्ट्रीय

यूपी विधानसभा चुनाव में कांग्रेस का सीएम फेस कौन होगा? इस सवाल पर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने बड़ा इशारा दिया है. प्रियंका गांधी ने कहा कि यूपी में उनके अलावा कोई और चेहरा दिखता है क्या? बता दें कि यूपी विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस ने आज युवाओं के लिए अपना घोषणापत्र जारी किया. Congress youth Manifesto जारी होने के मौके पर राहुल गांधी और प्रियंका गांधी दोनों मौजूद थे.

कार्यक्रम में उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में कांग्रेस पार्टी के मुख्यमंत्री पद के चेहरे के बारे में प्रियंका गांधी से सवाल पूछा गया. इसपर उन्होंने कहा कि क्या आपको उत्तर प्रदेश में कांग्रेस पार्टी की तरफ़ से किसी और का चेहरा दिख रहा है? मेरा चेहरा हर जगह दिख रहा है ना?

प्रियंका के इस बयान पर प्रतिक्रियाएं भी आने लगी हैं. मोदी सरकार में मंत्री और सांसद एसपी सिंह बघेल ने कहा कि प्रियंका गांधी ठीक कह रहीं हैं, उनके अलावा कांग्रेस में कोई दिखाई नहीं दे रहा है. वैसे तो जंगल का राजा शेर होता है लेकिन एक कहावत है कि एक बार बंदर को जंगल का राजा चुन लिया गया था. जब भी कोई अपनी समस्या लेकर बंदर के पास जाता था तो वह एक डाल से दूसरी डाल पर कूदता था क्योंकि बंदर को इसके अलावा कुछ नहीं आता था.

प्रेस कॉन्फ्रेंस में प्रियंका गांधी ने कहा कि जब तक जनता जवाबदेही नहीं मांगेगी तब तक कोई नेता जवाबदेह नहीं बनेगा. जनता को जागरूक होना पड़ेगा. जातिवाद, सांप्रदायिकतावाद से आपका पेट नहीं भरने वाला है. इससे सिर्फ कुछ राजनीतिक दलों का फायदा होगा.

प्रियंका ने आगे कहा कि जब आपको मालूम है कि आपको जाति और धर्म के आधार पर वोट मिलेगा. तो फिर आप उसका नल क्यों लगाएंगे, उसकी सड़क, स्कूल क्यों बनाएंगे, उसके लिए कुछ क्यों करेंगे. लेकिन जब सरकार बनाने की बात होती है तब जवाबदेही मांगिए और विकास पर अपना वोट दीजिए.

बता दें कि उत्तर प्रदेश चुनाव के लिए कांग्रेस पार्टी ने आज युवाओं को ध्यान में रखकर एक अलग घोषणापत्र जारी किया है. इसका नाम ‘भर्ती विधान’ रखा गया है. इसमें वादा किया गया है कि यूपी में कांग्रेस की सरकार बनने पर 20 लाख युवाओं को रोजगार दिया जाएगा. इसके साथ-साथ भर्ती प्रक्रिया को पारदर्शी बनाने पर काम किया जाएगा और लंबे वक्त से खाली पड़े पदों को भरा जाएगा. स्टार्टअप के लिए सस्ते लोन का भी वादा किया गया है.